प्रदेश में हॉर्स ट्रेडिंग की तैयारी में जुटी कांग्रेस और भाजपा

11/30/2023 1:55:47 PM

जयपुर । राजस्थान में हर बार सरकार बदलने का रिवाज वर्षों से चला आ रहा है, लेकिन अबकी बार क्या ये रिवाज बरकरार रहेगा या रिपीट होगी सरकार ? ये तो आने वाला समय ही तय कर पाएगा । दरअसल 25 दिसंबर को राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर मतदान हुए थे । जिसका परिणाम 3 दिसंबर को आने वाला है । ऐसे में दोनों ही बीजेपी और कांग्रेस पार्टी अपने प्लान बी की तैयारी में जुट गई है । लिहाजा दोनों ही पार्टियों के दिग्गज निर्दलीय प्रत्याशियों और बागी उम्मीदवारों से लगातार संपर्क में जुटे हुए हैं । हालांकि दोनों ही दल अभी फोन कर निर्दलीयों को अपने-अपने पक्ष के करने की पुरजोर कोशिश में है ।

बाड़ाबंदी और जोड़तोड़ का प्लान बना रहे हैं  बीजेपी-कांग्रेस के रणनीतिकार 
ऐसे में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी दिल्ली में डेरा डाल दिया है तो वहीं बीजेपी के रणनीतिकार भी उम्मीदवारों से फीडबैक ले रही है । सियासी जानकारों के मुताबिक दोनों ही बड़े राजनीतिक दल कांग्रेस और बीजेपी हॉर्स ट्रेडिंग की तैयारी में लगे हुए है । फिलहाल दोनों ही दल प्रत्याशियों से फोन पर संपर्क बनाए हुए है, बीजेपी और कांग्रेस के रणनीतिकार बाड़ाबंदी और जोड़तोड़ का प्लान बना रहे हैं । हालांकि कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने साफ तौर पर इनकार करते हुए कहा कि कांग्रेस को बहुमत मिलेगा, कांग्रेस को जोड़तोड़ की जरूरत ही नहीं पड़ेगी । जबकि बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने दावा किया है कि बीजेपी की झोली में 130 सीटें आएगी । 


निर्दलियों ने पिछली बार भी दिया कांग्रेस का साथ- डोटासरा
वहीं पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि जो भी निर्दलीय बागी होकर चुनाव लड़ रहे हैं, उन्होंने हमारा पिछला कार्यकाल देखा है, ऐसे में वे भाजपा के साथ नहीं हमारे साथ आएंगे । उन्होंने कहा कि पिछली बार भी निर्दलीय प्रत्याशियों और अन्य पार्टियों ने हमें समर्थन दिया था, आगे भी यहीं ट्रेंड रहेगा । हालांकि हमें पूर्ण बहुमत मिलने वाला है । 

बीजेपी को पूर्ण बहुमत, कांग्रेस का 50 का आंकड़ा भी पूरा नहीं- जोशी
तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने भी जीत का दावा किया है, कहा कि पीएम मोदी की राजस्थान में की गई सभाओं में हर तबका आकर्षित हुआ है । लोगों ने भाजपा पर विश्वास जताया है और मैं भी आश्वस्त हूं कि पूर्ण बहुमत की बीजेपी की सरकार आ रही है । कांग्रेस पार्टी 50 का आंकड़ा भी पूरा नहीं कर पाएगी ।

कांग्रेस जयपुर तो बीजेपी गुजरात में कर सकती है बाड़ाबंदी 
हालांकि अगर  विशेष परिस्थितियों में  जरूरत पड़ी तो कांग्रेस की ओर से जयपुर में ही बाड़ाबंदी की संभावना जताई जा रही है । अभी प्रदेश में सत्ता कांग्रेस के हाथ में है ऐसे में पार्टी को कोई परेशानी नहीं होगी । दूसरी तरफ बीजेपी का मानना है कि वैसे तो बीजेपी को बाड़ाबंदी की जरूरत ही नहीं पड़ेगी । क्योकिं पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलने वाला है, अगर जरूरत पड़ी भी तो बाड़ेबंदी की सबसे महफूज जगह गुजरात होगी । ऐसे में पार्टी विशेष परिस्थितियों में विधायकों को गुजरात ले जा सकती हैं । हालांकि दो दशकों में पार्टी को कभी ऐसी जरूरत नहीं पड़ी है ।   
     

ये कंटेंट आपको कैसा लगा कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं ?
 


Content Editor

Afjal Khan

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

Related News